मधुमेहका कारणहरू: मधुमेह केवल मीठो खानेले हुँदैन, यस ढिलो-हत्यारा रोगको reasons कारणहरू जान्नुहोस्


मधुमेहका कारणहरू: मधुमेह केवल मीठो खानेले हुँदैन, यस ढिलो-हत्यारा रोगको reasons कारणहरू जान्नुहोस्

मधुमेह का कारण मधुमेह एक गम्भीर रोग हो, यसलाई स्लो-किलर पनि भनिन्छ। यसको लागि कुनै उपचार छैन, तपाईं यसलाई आफ्नो भोजन र बस्ने बानी बदल्दै नियन्त्रणमा राख्न सक्नुहुन्छ।

नयाँ दिल्ली, जीवनशैली डेस्क। मधुमेहको एक मात्र कारण मिठो छैन। पिछले कुछ सालों में भारत में डायबिटीज़ की बीमारी आम होती जा रही है। इसेसे आजकल सिर्फ बूढ़े नहीं, बल्कि युवा पीढ़ी भी तेज़ी से शिकार हो रही है। ऐसा यहां के खान-पान और फिर डायबिटीज़ के प्रति जागरुकता न होने की वजह से है। डायबिटीज़ एक गंभीर बीमारी है, इसको स्लो-किलर भी कहा जाता है। इसका कोई इलाज नहीं है, बस आप इसे अपने खाने और रहन सहन में बदलाव कर कंट्रोल में रख सकते हैं। ये एक ऐसी बीमारी है जो आपके शरीर के दूसरे अंगों पर धीरे-धीरे असर डालती है।

एक आम धारणा ये है कि ज़्यादा मीठा खाने से डायबिटीज़ हो जाती है। हालांकि, सच यह है कि सिर्फ मीठा खाना ही इस बीमारी की वजह नहीं है, बल्कि इसके पीछे और भी कई कारण हो सकते हैं। यहां जानें कि किन कारणों से डायबिटीज़ होती है ताकि आप भी रह सकें सतर्क। 

कैसे होती है डायबिटीज़

डायबिटीज़ दो तरह की होती हैम। टाइप-1 और टाइप-2। जब शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र इन्सुलिन पैदा करने वाली कोशिकाओं को ख़त्म कर देता है तो उसे टाइप-1, डायबिटीज कहा जाता है। वहीं, टाइप-2 डायबिटीज़ में शरीर के अन्दर इन्सुलिन का निर्माण तो होता है पर वह शरीर की आवश्यकता के अनुसार नहीं होता। पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन ना बनने की वजह से शरीर में शुगर लेवर बढ़ जाता है।

डायबिटीज़ के 5 कारण 

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

यह भी पढ़ें

1. जब शरीर का पेंक्रियाज ग्रंथी सही तरीके से काम नहीं करता है तब भी ये परेशानी होती है। असल में इस ग्रंथी से कई हार्मोंस निकलते हैं, इन्हीं में से हैं इंसुलिन और ग्लूकागोन। इंसुलिन शरीर के अन्य भागों में शुगर पहुंचाने का काम करती है। इंसुलिन के कम निर्माण से खून में शुगर अधिक हो जाती और ये परेशानी होती है।

2. जंक फूड इसकी एक वजह हो सकती है। इस तरह के खाने में फैट काफी मात्रा में पाया जाता है। इससे शरीर में कैलोरी ज़रूरत से ज़्यादा हो जाती है। इससे आप मोटापे का शिकार होते हैं। मोटापे की वजह से कई बार इन्सुलिन उस मात्रा में नहीं बन पाती और शरीर में शुगर लेवल बढ़ जाता है।

वजन घटाउनको लागि अजवाइन: यदि तपाईं तौल घटाउन चाहानुहुन्छ भने यस प्रकारले अजवाइन प्रयोग गर्नुहोस्

वजन घटाउनको लागि अजवाइन: यदि तपाईं तौल घटाउन चाहानुहुन्छ भने यस प्रकारले अजवाइन प्रयोग गर्नुहोस्

पनि पढ्नुहोस्

3. डायबिटीज़ कई बार जेनेटिकल यानि अनुवांशिक वजह से भी होती है। अगर आपके घर में आपके माता-पिता या भाई-बहन किसी भी सदस्य को ये परेशानी है, तो चांसेज होते हैं कि आपको भी ये बीमारी अपना शिकार बना सकती है। इसलिए शुगर टेस्ट समय-समय पर कराते रहें।

4. जैसा कि मोटापा बढ़ने की वजह से आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन ना बनने की वजह से शरीर में शुगर लेवर बढ़ जाता है। इससे आपको डायबिटीज़ का खतरा होता है। इसलिए अपने वज़न पर हमेशा कंट्रोल रखें। रोज़ाना वर्कआउट करें।

विश्व अक्षमता दिवस २०१:: हेरचाहका यी तरिकाहरू अपनाएर बच्चाहरूको लागि मार्ग सजिलो बनाउनुहोस्

विश्व अक्षमता दिवस २०१:: हेरचाहका यी तरिकाहरू अपनाएर बच्चाहरूको लागि मार्ग सजिलो बनाउनुहोस्

पनि पढ्नुहोस्

5. अगर आपका ज़्यादातर वक्त बैठकर बितता है, तो चांसेज है कि आगे चलकर आप इस बीमारी का शिकार हो सकते हैं। ऐसा इसलिए कि जब आप कोई शारीरिक मेहनत नहीं करते हैं, तो कई बार शारीरिक ऊर्जा कम होने से खून में शुगर जमा होता चला जाता है। इसी से आगे चलकर डायबिटीज़ हो जाती है।

जवाफ लेख्नुहोस्

तपाईंको ईमेल ठेगाना प्रकाशित हुने छैन । आवश्यक ठाउँमा * चिन्ह लगाइएको छ