माइग्रेन से लेकर त्वचा रोग तक, सभी के लिए असरदार है नारियल


माइग्रेन से लेकर त्वचा रोग तक, सभी के लिए असरदार है नारियल

नारियल का इस्तेमाल सिर्फ पूजा-पाठ के लिए ही नहीं बल्कि कई सारी बीमारियों के इलाज में भी किया जाता है। माइग्रेन से लेकर स्किन से जुड़ी सभी बीमारियों का इलाज इसके द्वारा संभव है।

नारियल को श्रीफल कहा जाता है इसे ये नाम इसके पवित्रता से भरपूर गुणों व लक्ष्मीजी का प्रिय होने के कारण दिया गया है। नारियल को हिन्दू धर्म में पवित्रता व शुद्धता का प्रतीक माना गया है इसलिए पूजन में भगवान को श्रीफल भेंट किया जाता है। साथ ही नारियल एक सरल और सस्ती औषधि है। इसका प्रयोग हम कई रोगों से निपटने के लिए कर सकते है। नारियल एक लाभकारी नुस्खा है। आइए देखते हैं नारियल किन बीमारियों से दिलाता है नीजात। 

नारियल के आयुर्वेदिक फायदे

हाइपरइंटेंसिटी या गैस्ट्रिटिस

कच्चे हरे नारियल का रस 100-500 मिली दिन में 2 बार लें।

माईग्रेन

कच्चे नारियल का रस दिन में 2 बार लें।

स्टोन

नारियल की गिरी 5 ग्राम लें। ½ ग्राम मिलाकर दिन में 2 बार लें।

चिकन पोक्स

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

यह भी पढ़ें

नारियल पानी से धोएं। जलन कम होगी।

त्वचा रोग या खुजली

वजन घटाउनको लागि अजवाइन: यदि तपाईं तौल घटाउन चाहानुहुन्छ, भने यस तरिकाले सेलेरी प्रयोग गर्नुहोस्

वजन घटाउनको लागि अजवाइन: यदि तपाईं तौल घटाउन चाहानुहुन्छ, भने यस तरिकाले सेलेरी प्रयोग गर्नुहोस्

पनि पढ्नुहोस्

नारियल तेल में कपूर मिलाकर लगाने से लाभ मिलेगा।

पेट में कीड़े

विश्व अक्षमता दिवस २०१:: हेरचाहका यी तरिकाहरू अपनाएर बच्चाहरूको लागि मार्ग सजिलो बनाउनुहोस्

विश्व अक्षमता दिवस २०१:: हेरचाहका यी तरिकाहरू अपनाएर बच्चाहरूको लागि मार्ग सजिलो बनाउनुहोस्

पनि पढ्नुहोस्

नारियल पानी में हींग डालें। दिन में 2 बार लें।

काले घने बाल 

निन्द्राको अभावले हृदयघात हुन सक्छ: निद्रा असफलताले हृदयघातको जोखिम बढाउन सक्छ!

निन्द्राको अभावले हृदयघात हुन सक्छ: निद्रा असफलताले हृदयघातको जोखिम बढाउन सक्छ!

पनि पढ्नुहोस्

नारियल तेल का लगातार प्रयोग करने से बाल लंबे, घने और काले होते हैं।

जवाफ लेख्नुहोस्

तपाईंको ईमेल ठेगाना प्रकाशित हुने छैन । आवश्यक ठाउँमा * चिन्ह लगाइएको छ